Why राष्ट्र जागरण…

क्योंकि हम सदियों से गुलाम रहे हैं और इस कारण हम भारतीय अपना 100 प्रतिशत विश्व को नहीं दे पाये। अब देना चाहते हैं क्यूंकि समस्त विश्व को भारतीय दर्शन , ज्ञान-विज्ञान सूत्रों एवं अध्यात्मिक शक्ति व् शान्ति की आवश्यकता है. उद्देश्य-

  • गौरवशाली हिन्दुस्तानी संस्कृति का सम्मान
  • जातीय एवं सांस्कृतिक विविधताओं के बीच परस्पर समन्वय
  • विदेशी सत्ता और साजिशों का बहिष्कार
  • सफल जनतांत्रिक राष्ट्र की चुनौतियों की पहचान
  • युवाओं के लिए स्वालंबन के रास्ते की खोज
  • अधिकाधिक स्वरोजगार के विकल्प और तकनिकी शिक्षा का प्रसार
  • जनहित में उपयोगी सूत्रों का व्यवहार में लाना

इस ब्लॉग पर पारिवारिक, सामाजिक, राष्ट्रीय, वैश्विक, समसामयिक चर्चे से सम्बंधित आलेख लिखे जा रहे हैं…

Jai Hind

जय हिंद !

Advertisements
%d bloggers like this: